पूर्व सांसद प्रदीप टम्टा मोदी सरकार पर जमकर बरसे कहा कि लोकतंत्र की हत्यारी हैं भाजपा सरकार

 

दी टॉप टेन न्यूज़ देहरादून

अल्मोड़ा- ब्लाँक काँग्रेस कमेटी लमगडा़ द्वारा आयोजित काँग्रेस पार्टी के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी की संसद सदस्यता बहाल करने के लिए चलाये जा रहे राष्ट्रव्यापी सत्याग्रह आन्दोलन के क्रम में आज लमगडा़ बाजार में बड़ी संख्या में काँग्रेसजनों ने सत्याग्रह आन्दोलन के द्वारा राहुल गांधी का समर्थन किया।

आन्दोलन में मुख्य अतिथि पूर्व सांसद प्रदीप टम्टा ने कहा कि आज देश बहुत बड़े राजनॆतिक संक्रमण से गुजर रहा हैं। लोकतंत्र की आस्था में जिस देश को लम्बे संघर्ष एंव बलिदान से आजादी मिली थी. आज उन्हीं सिद्वातों को नष्ट करने का कार्य केन्द्र की नरेन्द्र मोदी सरकार कर रही हैं। आज संविधान के मूल उद्देश्य के साथ आम व्यक्ति की अभिव्यक्ति पर चोट पहुँचाने का कृत्य हो रहा हैं। काँग्रेस के राष्ट्रीय नेता राहुल गांधी की भारत जोडों यात्रा देश की वर्तमान हालात का रिपोर्ट कार्ड था। जिससे केन्द्र की मोदी सरकार घबरा गयी हैं। केन्द्र की मोदी सरकार के खिलाफ आज अगर कोई देश में नेता हैं। तो वह राहुल गांधी हैं। उन्होंने कहा कि आने वाला भारत राहुल गांधी के नेतृत्व में उभेरगा।

इसलिए देश के संवैधानिक अधिकारों पर चोट पहुँचायी जायेगी तो काँग्रेस पार्टी उसका डटकर मुकाबला करेगी।
उन्होंने कहा कि राहुल गांधी देश के गरीब,नौजवान किसान और मातृशक्ति की मजबूत आवाज हैं। आज के दौर में हर काँग्रेस कार्यकर्ता के साथ भारत की जनता भी राहुल गांधी पर केन्द्र की मोदी सरकार द्वारा किये गये अन्यायपूर्ण रवॆये पर साथ खड़ी हैं। वर्ष 2024 लोकसभा चुनाव में देश की सबसे बड़ी जनविरोधी नरेन्द्र मोदी सरकार को उखाड़ फॆकने के लिए दृढ़ संकल्प लेने का समय आ गया हैं। इस सत्याग्रह आन्दोलन को जन जन के बीच ले जाकर आम जनता के समक्ष केन्द्र की मोदी एंव प्रदेश की धामी सरकार की नीतियों का पर्दाफाश करना हैं।

पूर्व विधानसभा अध्यक्ष गोविन्द सिंह कुँजवाल ने कहा कि काँग्रेस पार्टी का सत्याग्रह आन्दोलन बड़े संघर्ष का आगाज हैं। आज जनता छद्वम राजनीति करने वाली भाजपा के षड्यंत्र को देख रही हैं। केन्द्र की मोदी सरकार ने देश में पिछले नॊ सालों से अघोषित आपाताकाल लगाया हुआ हैं। देश के प्रधानमंत्री अपने मन की बात का शतक लगा चुके है। लेकिन जनता के मन की पीडा़ नहीं सुन रहे हैं , केन्द्र की मोदी सरकार पूँजीपतियों की सरकार बन चुकी हैं। देश का गरीब, किसान, बेरोजगार ऒर महिलायें असहाय हो चुके है। आज उनकी बात अगर किसी ने की तो वह केवल काँग्रेस के राष्ट्रीय नेता राहुल गांधी ने अपने भारत जोडों यात्रा में कही, देश की करोड़ों- करोड़ो जनता राहुल गांधी की चार हजार किमी की पदयात्रा की साक्षी बनी हैं.आज राहुल गांधी जिस मजबूती से केन्द्र की मोदी सरकार की एक के बाद एक पोल खोल रहे हैं उससे केन्द्र की मोदी सरकार डर गयी हैं. राहुल गाँधी की आवाज को कमजोर करने के लिए मोदी सरकार ने जिस प्रकार से भारत के लोकतंत्र का गला घोंटकर राहुल गांधी की सदस्यता को रद्द किया हैं। उसे पूरे देश सहित विश्व के देशों ने देखा था। आज राहुल गांधी देश की बड़ी आवाज हैं। आज उनके देश को बचाने के लिए किये जा रहे संघर्ष में साथ देकर नये भारत एंव बीजेपी मुक्त भारत का संकल्प लेना हैं। उन्होंने प्रदेश की धामी सरकार को आडे़ लेते हुए कहा हैं। कि प्रदेश के इतिहास में सबसे अनुभवहीन मुख्यमंत्री पुष्कर धामी बन चुके है। पिछले एक वर्ष के कार्यकाल में एक दर्जन से ज्यादा परीक्षाओं का लीक होना प्रदेश के मुख्यमंत्री की प्रशासनिक क्षमता का सबसे बड़ा उदाहरण हैं आज उत्तराखण्ड में शराब सस्ती हैं। शिक्षा महँगी हो चुकी हैं। प्रदेश भाजपा में बडा़ आन्तरिक कलह चल रहा हैं। भाजपा के भीतर बड़ी खींचतान में मंत्रीमंडल का विस्तार नहीं हो पा रहा हैं। इन सब चीजों से प्रदेश का विकास ठप्प हो चुका हैं। प्रदेश में अराजकता का माहॊल बढ़ रहा हैं। नौकरियाँ नहीं मिलने से बेरोजगार बड़ी संख्या में पलायन कर रहे हैं लेकिन सरकार सुस्त बनी हुई हैं। वो दिन भी दूर नहीं हैं। कि प्रदेश में फिर से नेतृत्व परिवर्तन की आशंका को बल मिल रहा हैं। उन्होंने कहा कि देश एंव प्रदेश का विकास केवल काँग्रेस पार्टी ही कर सकती हैं। इसलिए इस सत्याग्रह आन्दोलन को अलख जगाने के लिए कमर कसनी होगी।

आन्दोलन में काँग्रेस जिलाध्यक्ष भूपेन्द्र सिंह बोज गुडडू ने कहा कि छदम नारों की सरकार को उखाड़ फॆकने के लिए हर काँग्रेसी को मजबूती से आगे आना होगा ऒर काँग्रेस नेता राहुल गांधी के संघर्षों में हर हाथ को मजबूत बनाकर मोदी सरकार को आगामी लोकसभा चुनाव में उखाड़ फेकने का संकल्प हर घर – घर पंहुचाना हैं। उन्होंने कहा कि ऎसी तानाशाही सरकार ने हिटलर के दॊर की याद दिला दी हैं इसलिए इनके पतन का समय आ चुका हैं। सत्याग्रह की आवाज दिल्ली तक पहुँचानी हैं। सत्याग्रह आन्दोलन की अध्यक्षता काँग्रेस ब्लाक अध्यक्ष मनोज रावत एंव संचालन पूर्व ब्लाक अध्यक्ष दीवान सतवाल ने करी।

कार्यक्रम में पूर्व जिलाध्यक्ष पीताम्बर पाण्डेय, जिला प्रवक्ता निर्मल रावत, पूर्व ब्लाक अध्यक्ष दीवान सतवाल, पी सी सी सदस्य गोपाल सिंह चॊहान, ब्लाक अध्यक्ष मनोज रावत, पूर्व ब्लाक अध्यक्ष पूरन बिष्ट, पूर्व जिला सहकारी बैंक अध्यक्ष दीवान सिंह भॆसोडा, अनु सूचि विभाग जिलाध्यक्ष किशन लाल, प्रदेश महासचिव महिपाल प्रसाद, ब्लाक अध्यक्ष जॆंती चन्दन बिष्ट, ब्लाक कमेटी जागेश्वर बिशन बिष्ट, शिवराम आर्या, रमेश बिष्ट, न्याय पंचायत अध्यक्षों में राजेन्द्र बेलवाल, त्रिलोक सिंह, धन सिंह , पान सिंह बोरा, पूरन पाण्डेय, हेम आर्या, रमेश बिष्ट, पान सिंह बर्गली, मोहन कुंजवाल, मल्ला सालम प्रभारी रमेश बिष्ट, मोहन नगरकोटी, दीपक मलाडा़, हरिमोहन भट्ट, पूर्व सदस्य जिला पंचायत राजेश अधिकारी, गोपाल महरा, ललित सतवाल, बिशन राम, दीवान राम, सतीश पन्त, बहादुर राम, पूरन पाटनी, दिनेश पाण्डेय, दीपक सिंह, शिवराज सिंह बनॊला, बहादुर सिंह, बलवन्त सिंह, महेन्द्र सिंह, पान सिंह, जसवन्त सिंह, दीवान सिंह, बच्चीराम, नरेन्द्र प्रसाद, नारायण राम, सुन्दर सिंह, चन्दन बोरा, मोहनी देवी, तारा देवी, जॆतुली देवी, खष्टी देवी, तुलसी देवी, जयन्ती देवी, भगवती देवी, शोभादेवी, कलावती देवी, माधवी देवी, दीपा देवी सहित अनेक ग्राम प्रधान, क्षेत्र पंचायत सदस्य ऒर सरपंच सहित सैकडों कार्यकर्ता मॊजूद रहें।

Verified by MonsterInsights