अब 57 साल से अधिक उम्र के शिक्षकों को भी दिये जायेंगे टेबलेट,शिक्षकों ने शिक्षा मंत्री का जताया आभार

 

दी टॉप टेन न्यूज़ देहरादून

देहरादून-प्रदेश में स्थिति प्राइमरी स्कूलों को डिजिटल माध्यम से जोड़ने के लिए शिक्षकों को विभाग द्वारा टेबलेट दिये जा रहे है लेकिन इस योजना से शिक्षा विभाग में कार्यरत 57 साल से अधिक उम्र के शिक्षकों को इस योजना का लाभ नही दिया जा रहा था।

शिक्षा मंत्री डॉ. धन सिंह रावत ने इन शिक्षकों को भी टेबलेट दिये जाने के निर्देश जारी किए हैं। शिक्षा मंत्री के इस निर्देश से करीब 975 शिक्षकों को भी अब विभाग द्वारा टेबलेट दिए जाएंगे।

हम आपको बता दे कि बीते दिनों शिक्षा विभाग में सरकारी स्कूलों के 2250 शिक्षकों को सरकार ने टेबलेट देना शुरू किया था किंतु इस योजना में 57 साल से अधिक आयु के शिक्षकों को छोड़ दिया गया था।

 टेबलेट खरीदने के लिए प्रत्येक शिक्षक को 10-10 हजार रुपये दिए जा रहे हैं। यह योजना समग्र शिक्षा अभियान के तहत चलाई जा रही है, ताकि प्राइमरी के शिक्षक सूचना प्रौद्योगिकी से जुड़कर पठन पाठन के साथ सरकार की शिक्षा योजनाओं के साथ ऑनलाइन माध्यम से भी जुड़ सकें।

पूर्व में  योजना के तहत 57 साल से अधिक उम्र के शिक्षकों को टेबलेट नहीं देने के आदेश शिक्षा विभाग के अधिकारियों की ओर से दिए गए थे। समस्त मुख्य शिक्षा अधिकारियों को जारी अपने आदेश में शिक्षा महानिदेशक बंशीधर तिवारी ने कहा था कि 57 साल से अधिक उम्र के शिक्षकों को टेबलेट नहीं दिए जाएंगे। इस ओदश का शिक्षक संगठनों की ओर से विरोध किया जा रहा था। शुक्रवार को शिक्षा मंत्री डॉ. धन सिंह रावत ने स्पष्ट किया की अब यह टेबलेट सभी शिक्षकों दिए जाएंगे। मंत्री के निर्देशों पर शिक्षकों के प्रसन्नता व्यक्त की है। उनका कहना है कि इस तरह से शिक्षकों के साथ भेदभाव किया जाना उचित नहीं था। किसी शिक्षक की उम्र कितनी भी हो, काम तो सभी से समान रूप से लिया जाता है। शिक्षकों ने शिक्षा मंत्री का आभार व्यक्त किया है।

Verified by MonsterInsights