ग्रामीण क्षेत्रों में भी भू माफियाओं के हौसले बुलंद, ग्रामीण क्षेत्रों की भूमि पर पड़ने लगी भू माफियाओं की नजर

 

दी टॉप टेन न्यूज़ देहरादून

रानीखेत – पहाड़ के ग्रामीण क्षेत्रों में भी भू माफियाओं के हौसले बुलंद होने लगे हैं। ताजा मामला रानीखेत तहसील के सुदूरवर्ती ग्रामीण क्षेत्र पाखुड़ा गांव का है। जहां भू माफिया जमीन कब्जाने को पहुंचने लगे हैं। ग्रामीणों ने भू माफियाओं पर गाड़ी और पाखुड़ा की संयुक्त भूमि पर अतिक्रमण करने का आरोप लगाया है

ग्रामीणों ने कहा कि ग्राम सभा पाखुड़ा में कालिका मंदिर के समीप संयुक्त गौचर भूमि है। 17 मार्च 2023 को उत्तर प्रदेश नंबर की गाड़ी यूपी – 32 MJ 3366 नंबर की गाड़ी से कुछ लोग उतरे और जमीन की नाप जोख करने लगे। ग्रामीणों ने कहा कि यह सार्वजनिक भूमि है और यहां कोई भी कार्य करने से पहले गांव के जनप्रतिनिधियों से अनुमति लेनी होती है। यूके 01- C 476 नंबर की गाड़ी में जो व्यक्ति आया था वह व्यक्ति अपने आप को पूर्व सैनिक बता रहा था। जिसका इस भूमि से कोई लेना देना नहीं था और वह व्यक्ति न ही स्थानीय था और न ही उस जमीन का हकदार ग्रामीणों ने कहा कि उक्त पूर्व सैनिक का कहना था कि जमीन पर फीता लगाते हैं जिसकी होगी ले जाएगा।

ग्रामीणों ने संयुक्त मजिस्ट्रेट को ज्ञापन देकर ऐसे अराजक तत्वों व भू माफियाओं के खिलाफ सख्त कार्यवाही करने की मांग की है। वहीं ग्राम्य विकास एवम् पलायन निवारण आयोग के सुरेश चंद्र सुयाल ने भी संयुक्त मजिस्ट्रेट को पत्र लिखकर इस मामले में उचित कार्यवाही करने की मांग की है। इस दौरान ग्राम प्रधान पाखुड़ा काशी राम, प्रधान गाड़ी संजय सिंह, उप प्रधान गाड़ी नवीन गयाल, प्रमोद गयाल, चंद्र शेखर सुयाल, गणेश दत्त सुयाल सहित कई लोग मौजूद थे।

रिपोर्ट – गोपाल सिंह बिष्ट

Verified by MonsterInsights