The Top Ten News
The Best News Portal of India

वैष्णों देवी की तर्ज पर इस बार चारधाम यात्रा पर भी उपलब्ध फुट और बॉडी मसाज की सुविधा,मिनटों में दूर होगी तीर्थयात्रियों की थकान

 

दी टॉप टेन न्यूज़ देहरादून

देहरादून-अगर आप चारधाम यात्रा पर आ रहे हैं और यात्रा के दौरान आपको थकावट महसूस हो रही है तो घबराने की जरुरत नहीं है। उत्तराखंड पर्यटन विभाग की ओर से यात्री मार्गों पर फुट और बॉडी मसाज की सुविधा उपलब्ध है जहां यात्री अपनी थकावट को मिनटों में दूर कर सकते हैंं। यमुनोत्री पैदल मार्ग के रास्ते में जानकी चट्टी और केदारनाथ और सोनप्रयाग में इस तरह की सुविधाएं उपलब्ध हैं। जहां यात्री फुट और बॉडी मसाज करा सकते हैं।

यमुनोत्री धाम पहुंचने के लिए करीब पांच किलोमीटर की पैदल चढ़ाई चढ़नी पड़ती है। ऐसे में यात्रियों को थकावट हो जाती है। थकावट को दूर करने के लिए जानकी चट्टी में बॉडी और फुट मसाज की सुविधा उपलब्ध कराई गई है। फिलहाल यहां तीन मशीने लगाई गई हैं। जहां यात्री फुट एवं बॉडी मसाज का लुत्फ उठा रहे हैं। इस व्यवस्था से जहां यात्रियों की थकान मिट रही है वहीं स्थानीय युवाओं को रोजगार भी मिल रहा है। जिला पर्यटन विकास अधिकारी राहुल चौबे के मुताबिक बड़ी संख्या में तीर्थयात्री इस सुविधा का लाभ उठा रहे हैं।

इसी तरह से केदारनाथ और सोनप्रयाग में भी मसाज के लिए मशीने लगाई गई हैं। केदारनाथ में हाट बाजार के पास दो मशीने लगाई गई हैं जबकि सोनप्रयाग के बाजार में दो मशीने लगी हैं। बॉडी मसाज मशीन का तीर्थयात्रियों से 15 मिनट का 250 रुपये और फुट थेरेपी का 100 से 150 रुपये लिए जा रहे हैं।

युवाओं को मिला रोजगार

फुट और बॉडी मसाज की सुविधा पहली बार उत्तराखंड आ रहे तीर्थयात्रियों को मिल रही है। इससे पहले वैष्णों देवी में इस तरह की सुविधा उपलब्ध थी। लेकिन पर्यटन विभाग की पहल के बाद राज्य में मिल रही इस सुविधा का लाभ जहां यात्री उठा रहे हैं वहीं स्थानीय स्तर पर युवाओं को रोजगार भी मिल रहा है। मशीनों से फुट और बॉडी मसाज के अलावा फुट थेरेपी का प्रशिक्षण भी युवाओं को दिया गया है। जहां श्रद्धालु फुट थेरेपी का भी लुत्फ उठा रहे हैं। इस काम के लिए युवाओं को प्रशिक्षित भी किया गया। प्रशिक्षित युवाओं को जहां रोजगार मिल रहा है वहीं श्रद्धालुओं की समस्या का समाधान भी हो रहा है।

Comments are closed.