The Top Ten News
The Best News Portal of India

राज्यपाल ने पुलिस कर्मियों एवं उनके परिजनों की सहायता के लिए सहायक कोविड सामग्री से भरा वाहन रवाना किया

दी टॉप टेन न्यूज़ देहरादून

राज्यपाल बेबी रानी मौर्य ने गुरूवार को राजभवन से पुलिस कर्मियों एवं उनके परिजनों की सहायता हेतु 05 ऑक्सिजन कन्संट्रेटर, लगभग 10000 सर्जिकल मास्क, 5984 सेनेटाइजर, 2000 मेडिसन किट, 220 ऑक्सीमीटर, 145 पीपीई किट, थर्मामीटर, आयुष रक्षा किट, फेस शील्ड हेल्मेट आदि से भरे वाहन को रवाना किया। उल्लेखनीय है कि उक्त सामग्री उत्तराखण्ड पुलिस वाइव्स ऐसोसिएशन द्वारा विभिन्न सामाजिक संस्थाओं के माध्यम से एकत्र की गई है।
राज्यपाल मौर्य ने कहा कि उत्तराखण्ड पुलिस द्वारा कोविड के संकटकाल में महामारी की रोकथाम एवं जरूरतमंदों की सहायता हेतु उल्लेखनीय कार्य किया गया है। पुलिसकर्मियों ने फ्रन्टलाइन वर्कर्स के रूप में जनमानस के प्रति समर्पित सेवाभाव से सभी का सम्मान प्राप्त किया। राज्यपाल मौर्य ने उत्तराखण्ड पुलिस वाइव्स ऐसोसिएशन की अध्यक्ष अलकनंदा अशोक कुमार को निर्देश दिये कि पुलिसकर्मियों की पत्नियों एवं बच्चों के कल्याण हेतु कार्ययोजना बनायी जाय। शहीद पुलिसकर्मियों की पत्नियों हेतु कौशल विकास प्रशिक्षण के कार्यक्रम चलाये जाय।
पुलिस महानिदेशक अशोक कुमार ने बताया कि उत्तराखण्ड पुलिस द्वारा कोरोना संक्रमण के द्वितीय चरण में 2439 लोगों को ऑक्सिजन सिलेण्डर दिलवाने में सहायता की गई। लगभग 736 जरूरतंमद लोगों को अस्पतालों में बेड दिलवाने में मदद की गई। लगभग 208 लोगों को प्लाजमा/ब्लड डोनेशन में मदद की गई। उत्तराखण्ड पुलिस द्वारा अभी तक 15705 जरूरतमंदों को दवाई दिलवाने में सहायता की गई। 564 रोगियों को एम्बुलेंस पहुंचायी गई। पुलिस विभाग द्वारा 37411 जरूरतमंदो को राशन किट तथा पका हुआ भोजन वितरित किया गया। 34666 लोगों को दूध आदि आवश्यक सेवा की सहायता पहुंचायी गई। उत्तराखण्ड पुलिस द्वारा 692 कोरोना संक्रमित मृतकों का दाह संस्कार कराया गया। लगभग 3600 बुजुर्गो (सीनियर सिटीजन) की सहायता की गई। 27210 से अधिक लोग सहायता हेतु पुलिस हेल्पलाइन पर सम्पर्क कर चुके हैं।
पुलिस महानिदेशक अशोक कुमार ने जानकारी दी कि उत्तराखण्ड पुलिस द्वारा जरूरतमंदों को मानवीय सहायता पहुंचाने के साथ ही कोविड गाइडलाइन्स का सख्ती से पालन करवाने पर विशेष ध्यान दिया गया। पुलिस विभाग द्वारा अभी तक मास्क न पहनने पर 117483 लोगों पर कार्यवाही की गई। सोशल डिस्टेसिंग का उल्लंघन करने पर 228686 पर कार्यवाही की गई है। धारा 81/83 उत्तराखण्ड पुलिस एक्ट के तहत 10638 चालान किये गये। जिसमें से 359 कोर्ट भेजे गये तथा 10279 का शमन किया गया। डीएम एक्ट/एमएम एक्ट/भादवि के तहत विधिक कार्यवाही करते हुये 1191 पर एफआईआर की गयी तथा 1786 अभियुक्त आरोपित किये गये। उत्तराखण्ड पुलिस विभाग द्वारा अभी तक 5.67 करोड़ रूपये का जुर्माना वसूला गया। प्रतिदिन 9.55 लाख रूपये जुर्माना वसूला गया। पुलिस विभाग द्वारा 508475 मास्क वितरित किये गये।
इस अवसर पर एडीजी पी वी के प्रसाद, एडीजी अभिनव कुमार, परिसहाय राज्यपाल रचिता जुयाल, नोडल ऑफिसर उपवा शाहजहाँ जावेद खान, सचिव उत्तराखण्ड पुलिस वाइव्स ऐसोसिएशन रूपाली ज्योति उपस्थित थे।

Comments are closed.