The Top Ten News
The Best News Portal of India

पौड़ी में बारातियों से भरी बस खाई में गिरी,अब तक 6 शवों को निकाला गया,35 लोग लापता

हादसे की जानकारी मिलते ही मुख्यमंत्री पहुँचे आपदा कंट्रोल रूम

 

दी टॉप टेन न्यूज़ देहरादून

पौड़ी-पौड़ी जनपद में लैंसडोन के पास ग्राम सिमड़ी के पास बरातियों से भरी एक बस खाई में जा गिरी। बताया गया कि यह बस हरिद्वार जनपद के अंतर्गत लालढांग से बरात लेकर प्रखंड बिरोंखाल के अंतर्गत ग्राम कांडा तल्ला की ओर जा रही थी।
यह हादसा करीब शाम के 7 बजे हुआ है स्थानीय निवासी ने बताया कि बस करीब 350 मीटर नीचे खाई में गिरी।बीरोखाल स्वास्थ्य केंद्र से पांच डाक्टरों की टीम मौके पर भेजी गई हैं। 


जानकारी के अनुसार बस में 50 से अधिक बाराती सवार थे. रेस्क्यू ऑपरेशन की टीम ने अभीतक 6 शवों को निकाला है. अंधेरा होने के चलते रेस्क्यू ऑपरेशन में दिक्कतें आ रही है. मौत का आंकड़ा बढ़ने की आशंका है. क्योंकि अभी भी 35 लोग लापता बताए जा रहे है।वहीं गंभीर रूप से घायल 10 बारातियों को पास के हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है।

पौङी जिले में बस दुर्घटना की सूचना मिलते ही मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी मंगलवार को देर सांय सचिवालय स्थित आपदा कंट्रोल रूम पहुंचे। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों से दुर्घटना के बारे मे विस्तार से जानकारी ली। मुख्यमंत्री ने डीएम पौङी से फोन पर बात कर उन्हें पूरी सतर्कता के साथ राहत और बचाव कार्य करने के निर्देश दिये। मुख्यमंत्री ने राज्य आपदा कंट्रोल रूम के अधिकारीयों को हालात पर लगातार नजर बनाए रखने और जिले के अधिकारीयों से लगातार सम्पर्क में रहने के निर्देश दिये। कहा कि शासन स्तर से हर सम्भव सहायता उपलब्ध कराई जाए।
बस दुर्घटना के सम्बन्ध में मुख्यमंत्री ने फोन पर विधायक लैंसडाउन से भी वार्ता की तथा स्थिति की पूरी जानकारी प्राप्त की। मुख्यमंत्री ने बस दुर्घटना को दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए घायलों का हर संभव उपचार की व्यवस्था तथा राहत एवं बचाव कार्यों में समन्वय के साथ तेजी लाये जाने के निर्देश दिये है।
मुख्यमंत्री ने सचिव आपदा डॉ. रणजीत सिन्हा को निर्देश दिये कि आपदा प्रबन्धन तंत्र को निरन्तर सक्रियता से संचालित किया जाए तथा आपदा की स्थिति पर बराबर नजर रखी जाय। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने उत्तरकाशी में हुई घटना की भी अद्यतन स्थिति की जानकारी प्राप्त की। इन दुर्घटनाओं के दृष्टिगत मुख्यमंत्री ने अपने कल के पूर्व प्रस्तावित सभी कार्यक्रम स्थगित कर दिये हैं।

Comments are closed.

Verified by MonsterInsights