The Top Ten News
The Best News Portal of India

नेपाल के महेन्द्रनगर में हुआ महाकाली संवाद कार्यक्रम का आयोजन

भारत व नेपाल के सीमान्त प्रतिनिधियों ने किया प्रतिभाग

दीपक फुलेरा

दी टॉप टैन न्यूज़(नेपाल)- भारत में गंगा नदी को स्वच्छ व निर्मल बनाने के लिए जंहा भारत सरकार द्वारा विभिन्न योजनाओं को संचालित किया जा रहा है। वही भारत के पड़ोसी देश नेपाल में भी दोनों देशों के मध्य बहने वाली महाकाली नदी की स्वछता व निर्मलता बनाये रखने  के साथ जल संरक्षण व सीमान्त विकास जैसे महत्वपूर्ण विषय पर महाकाली संवाद कार्यक्रम का आयोजन किया गया।

 उत्तराखण्ड की सीमा से लगे कंचनपुर जिले के महेन्द्रनगर नेपाल में आयोजित  महाकाली संवाद कार्यक्रम में नेपाल के सुदूर पश्चिम प्रदेश की पर्यटन मंत्री माया भट्ट,विधायक प्रकाश रावल,मेयर महेन्दनगर सुरेंद्र बिष्ट सहित विभिन संगठनों के लोग शामिल हुए वही भारत की ओर से भी इस कार्यक्रम में कांग्रेस प्रदेश महामंत्री,भुवन कापड़ी,खटीमा के ब्लॉक प्रमुख रंजीत सिंह नामधारी,ज्येष्ठ प्रमुख प्रवीण बिष्ट सहित विभिन्न सीमान्त संगठनों के प्रतिनिधियों ने प्रतिभाग किया।महाकाली संवाद कार्यक्रम में जंहा महाकाली नदी की निर्मलता व स्वच्छता बनाये रखने के साथ जल संरक्षण पर चर्चा हुई।इसके साथ ही दोनों देशों के लिए महत्वपूर्ण महाकाली नदी पर वाटर स्पोर्ट्स को विकसित करने की भी बात हुई। वही इस दौरान कार्यक्रम में दोनों देशों के प्रतिनिधियों के मध्य सीमान्त समस्याओं पर भी चर्चा हुई।

महाकाली संवाद कार्यक्रम में नेपाल पहुँचे कांग्रेस प्रदेश महामंत्री भुवन कापड़ी ने जंहा महाकाली संवाद को महत्वपूर्ण बताता वही महाकाली नदी में वॉटर स्पोर्ट्स को दोनों देशों द्वारा विकसित करने से रोजगार के अवसर पैदा होने की बात कही।साथ ही महाकाली नदी से लगी भारत नेपाल सीमा पर प्रस्तावित सूखा बंदरगाह को दोनों देशों के लिए व्यापारिक लिहाज से महत्वपूर्ण बताया।
वही नेपाल की पर्यटन मंत्री माया भट्ट,स्थानीय विधायक प्रकाश रावल व महेन्द्रनगर के मेयर सुरेंद्र बिष्ट दोनों देशों के सीमान्त प्रतिनिधियों के बीच हुए महाकाली संवाद कार्यक्रम को महत्वपूर्ण बताते हुए इस विषय पर आगामी योजनाओं को बनाने की बात कही। साथ ही दोनों देशों के सीमान्त विकास को आगे बढ़ाने को लेकर आपसी संवाद की जरूरी बताया।

वही इस दौरान महेन्द्रनगर नेपाल के मेयर सुरेंद्र बिष्ट ने भारत व नेपाल के मध्य सहज, सुलभ व सम्मानजनक आवागमन,दोनों देशों के सीमान्त विकास,जीवनदायनी महाकाली नदी की स्वछता को बनाये रखने व वॉटर स्पॉट्स के माध्यम से रोजगार के अवसर पैदा करने को महाकाली संवाद कार्यक्रम का उद्देश्य बताया।साथ ही सीमान्त विकास व जनसमस्याओं के निस्तारण को इस तरह के संवाद कार्यक्रमो को कराए जाने की बात कही।

नेपाली में आयोजित महाकाली संवाद कार्यक्रम में भारत की तरफ से भुवन कापड़ी,प्रदेश महामंत्री,कांग्रेस उत्तराखण्ड,रंजीत सिंह नामधारी,ब्लॉक प्रमुख खटीमा,प्रवीण बिष्ट ज्येष्ठ ब्लॉक प्रमुख खटीमा, विनोद चंद,एमडी पॉलिटेक्निक कॉलेज बनबसा,त्रिलोक सिंह,देवेंद्र कन्याल,मोहन जोशी,कमान सिंह,कुंदन चड्डा,राजू सिंह,प्रकाश आर्या,रीडर्स संस्था बनबसा आदि मौजूद रहे।

Comments are closed.

Verified by MonsterInsights