The Top Ten News
The Best News Portal of India

कांग्रेस का प्रशासन पर अलोकतांत्रिक प्रक्रिया अपनाने का आरोप

रात को बीडीसी मेम्बर्स को नोटिस देने पर कांग्रेस का आक्रोश

दीपक फुलेरा-
दी टॉप टैन न्यूज़(खटीमा)-
सीमान्त खटीमा में वीरवार की रात को पुलिस व प्रशासन द्वारा नवनिर्वाचित बीडीसी सदस्यों के घरों में नोटिस तामील कराए जाने के विरोध में खटीमा कांग्रेस इकाई ने आज कांग्रेस कार्यकर्ताओं व बीडीसी सदस्यों के साथ एसडीएम का घेराव कर अपना  विरोध दर्ज कराया है। पूर्व यूथ कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष भुवन कापड़ी के नेतृत्व में तहसील पहुँचे कांग्रेस कार्यकता व बीडीसी सदस्यों ने जंहा प्रशासन की कार्यवाही पर अपना विरोध दर्ज कराया वही अलोकतांत्रिक तरीके से बीडीसी सदस्यों को रात दो बजे नोटिस देने को नियम विरुद्ध व अलोकतांत्रिक बताया है।
कांग्रेसी नेता भुवन कापड़ी ने सत्ता धारी भाजपा पर आरोप लगाए की खटीमा ब्लॉक प्रमुख चुनाव में वर्चस्व को लेकर भाजपा  द्वारा सस्ता पक्ष का नाजायज प्रयोग किया जा रहा है।स्थानीय प्रशासन पर दबाव बनाकर प्रशासन से बीडीसी मेम्बरों की परेड कराने के लिए देर रात बीडीसी मेम्बर्स के घरों में पुलिस के माध्यम से नोटिस तामील कराए है। जनता से चुन कर आये जन प्रतिनिधियों को देर रात अपराधियो की तरह नोटिस जारी कर उपस्थित होने को उन्होंने  लोकतांत्रिक नियमो के खिलाफ बताया है।
प्रशासन द्वारा देर रात नोटिस दिए जाने की कार्यवाही के विरोध में ही कांग्रेस व नव निर्वाचित बीडीसी मेम्बर्स ने एसडीएम का घेराव कर आज अपना विरोध दर्ज कराया है। जबकि दूसरी तरह एसडीएम खटीमा निर्मला बिष्ट ने बीडीसी मेम्बर्स को नोटिस दिए जाने के सम्बंध में बताया कि प्रशासन को कुछ बीडीसी मेम्बरों के बंधक बनाए जाने की सूचना पर बीती शाम एसडीएम व सीओ द्वारा संयुक्त रूप से बीडीसी मेम्बर्स को नोटिस जारी कर एक नवम्बर को अपने आवास या एआरओ कार्यालय उपस्थित होने के आदेश जारी किए गए थे।ताकि अपने घरों से गायब बीडीसी मेम्बर की सुरक्षा को सुनिश्चित किया जा सके।वही एसडीएम महोदया कांग्रेस के दो बजे रात बीडीसी मेम्बर्स को नोटिस दिए जाने के आरोप पर कोई शिकायत या इस तरह के कोई साक्ष्य उन्हें ना दिए जाने की भी बात कहती नजर आई।
साथ ही एसडीएम ने कांग्रेस के आरोप पर दो बजे रात किसी बीडीसी मेम्बर्स को नोटिस दिए जाने के साक्ष्य उनके पास ना आने की बात भी कही है। एसडीएम ने वीरवार की शाम को नोटिस जारी कर एक नवम्बर को दो बजे बीडीसी मेम्बर्स को अपने घर या एआरओ कार्यालय में उपस्थिति दर्ज कराने के नोटिस तामील कराए जाने की बात जरूर मानी ताकि प्रशासन कुछ बीडीसी मेम्बर्स के बंधक बनाए जाने की शिकायत के बाद उनकी सुरक्षा को सुनिश्चित कर सके।फिलहाल प्रशासन की इस कार्यवाही को सत्ता पक्ष के दबाव में कई गई कार्यवाही का आरोप लगाते हुए खटीमा कांग्रेस स्थानीय प्रशासन के खिलाफ मुखर रूप से बीडीसी मेम्बर्स के साथ सामने जरूर आई है।

Comments are closed.

Verified by MonsterInsights