The Top Ten News
The Best News Portal of India

सांसद अजय टम्टा पहुंचे इंडो नेपाल बॉर्डर के दौरे पर


सीमांत विकास के साथ बॉर्डर पर  कोरोना वायरस को लेकर किया निरीक्षण

दी टॉप टेन न्यूज़(बनबसा)- अल्मोड़ा पिथौरागढ़ संसदीय क्षेत्र के सांसद अजय टम्टा मंगलवार को सीमान्त क्षेत्र बनबसा के दौरे पर पहुँचे। अपने संसदीय क्षेत्र की नेपाल सीमा का सांसद ने स्थानीय अधिकारियों व भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ दौरा किया।सीमान्त विकास को लेकर अधिकारियों से चर्चा कर सांसद टम्टा ने कोरोना वायरस को लेकर स्वास्थ्य विभाग के कैम्प का भी निरीक्षण किया।


सांसद अजय टम्टा ने इस दौरान बनबसा इंडो नेपाल सीमा पर स्थित भारत व नेपाल को जोड़ने वाले ब्रिट्रिश कालीन शारदा बैराज का निरीक्षण किया। वही यूपी सिंचाई विभाग के अधिकारियों से बैराज की वर्तमान स्थित के बारे में जानकारी भी ली। साथ ही सांसद टम्टा ने नेपाल बॉर्डर पर नेपाल की तरफ बन रहे सूखा बंदरगाह व एशियन हाइवे के बारे में सीमान्त अधिकारियों से वार्ता व चर्चा की।
  वही सांसद अजय टम्टा ने इस दौरान यूपी सिचाई विभाग के अथिति ग्रह में अधिकारी के साथ सीमान्त क्षेत्र की जनता व व्यापारियों की समस्याओ को भी सुना। स्थानीय व्यापारियों ने जंहा सांसद टम्टा के सामने भारत नेपाल मैत्री बस सेवा की आड़ में नेपाल से चल रही डग्गामार बसों के संचालन को रोकने की सांसद से मांग की। वही बनबसा एनएचपीसी गेट से पाटनी तिराहे तक जर्जर हो चुके मार्ग के पुर्ननिर्माण की मांग भी रखी।
 वही बनबसा के पूर्व व्यापार मंडल अध्यक्ष व नगर पंचायत चेयरमैन प्रतिनिधि संजय अग्रवाल ने बनबसा मिनी स्टेडियम को खेल विभाग को सोंपने, खेल कोचों की नियुक्ति,स्टेडियम चारदिवार व विधुत व्यवस्था,क्षेत्र में रोजगार लघु उधोगो की स्थापना के साथ ,बनबसा नगर में रहने वाले लोगो को भूमि का मालिकाना हक दिलाने की सांसद टम्टा से मांग की।

सांसद अजय टम्टा ने जंहा आमजन की समस्याओं के जल्द निस्तारण को लेकर सम्बंधित अधिकारियों को निर्देश दिए।वही स्थानीय पत्रकारों से रूबरू होते हुए सांसद अजय टम्टा ने कहा कि केंद्र सरकार उनके संसदीय क्षेत्र की भारत नेपाल सीमा पर ऑल वेदर रोड की महत्वाकांशी योजना पर काम कर रही है। साथ ही भारत व नेपाल को जोड़ने वाले एशियन हाइवे की डीपीआर तैयार हो चुकी है। इस मामले को लेकर आज उन्हीने स्थानीय जनता,व्यापारियों व अधिकारियों से बात भी की है। जल्द ही भारत की ओर से भी एशियन हाइवे के रूप में नेपाल को जोड़ने वाले एशियन हाइवे के निर्माण का कार्य भी शुरू हो जाएगा।वही सीमान्त क्षेत्र के विकास को लेकर वह प्रतिबद्ध है। उनका लगातार प्रयास रहता है कि वह अपने संसदीय क्षेत्र का दौरा कर वहां की जनसमस्याओं का निस्तारण कर संसदीय क्षेत्र के विकास को नई ऊंचाइयों पर ले जाये।

Comments are closed.