The Top Ten News
The Best News Portal of India

राज्य सरकार के प्रयासों द्वारा अन्य राज्यों से आज दोपहर तक 18156 प्रवासियों को वापस लाया गया

राज्य सरकार निरंतर कर रही है उत्तराखंड प्रवासियों की मदद

राज्य में उत्तराखंड प्रवासियों के रोजगार सृजन हेतु मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना का शुभारंभ

दी टॉप टेन न्यूज़ देहरादून

लॉक डाउन के बाद से अन्य राज्यों में फसे प्रवासियों द्वारा सरकार से लगातार गुहार लगाई जा रही थी कि वह उन्हें अपने राज्य में लौटने में मदद करें इसी को लेकर राज्य सरकार ने कुछ हेल्प लाइन नंबर और रजिस्ट्रेशन की लिंक जारी की थी जिसमें की दूसरे राज्यों से उत्तराखंड आने के लिए 1,75,880 प्रवासियों ने पंजीकरण करवाया है।
इसके तहत राज्य सरकार अभी तक 18156 लोगों को उत्तराखंड प्रदेश में वापस ला चुकी है उसके साथ ही उत्तराखंड में फस गए दूसरे राज्यों के 20 हजार लोगों ने वापस अपने राज्य जाने के लिए पंजीकरण कराया है इनमें से 4780 व्यक्तियों को उनके स्थानों में भेज दिया गया है।पिछले तीन  दिनों से राज्य सरकार द्वारा गुड़गांव से 8700 लोगों को वापस लाने के प्लान पर काम किया जा रहा है।

अहमदाबाद सूरत पुणे के साथ ही केरल से भी प्रवासी लोगों को लाने के लिए ट्रेन के बारे में रेल मंत्रालय और संबंधित राज्यों से राज्य सरकार की बात हुई है अभी तक कंट्रोल रूम के कॉल सेंटर में उत्तराखंड प्रवासियों की 45 हजार से अधिक कॉल रिसीव की गई हैं।

राज्य सरकार द्वारा लौट रहे उत्तराखंड प्रवासियों के लिए मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना का शुभारंभ

राज्य के मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह ने बताया है कि जो प्रवासी उत्तराखंड राज्य में लौट कर आ रहे हैं राज्य सरकार को उनके रोजगार की भी चिंता है। इसीलिए मुख्यमंत्री के निर्देश पर प्रधानमंत्री स्वरोजगार योजना की तर्ज पर मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना को राज्य में मंजूरी दे दी गई है। इसमें निर्माण और सेवा क्षेत्र में अपना काम करने के लिए ऋण व अनुदान की व्यवस्था की गई है इसी प्रकार और भी अनेक योजनाओं पर विचार किया जा रहा है।

Comments are closed.