The Top Ten News
The Best News Portal of India

बरसात ने रोकी रफ्तार,हादसा टला, साढ़े तीन घँटे एनएच जाम

बीच शहर में सड़क पर गिरा पेड़,विधुत आपूर्ति हुई ठप

टी टॉप टेन न्यूज़(खटीमा)- सीमान्त क्षेत्र खटीमा में सड़क किनारे खड़े पेड़ आम जनता को अब डराने लगे है।हल्की सी बरसात हो या हवा चले सड़क किनारे खड़े पेड़ धड़ाम से सड़क पर आ गिरते है। रविवार को दोपहर में बरसात के चलते एक बार फिर खटीमा कोतवाली के पास शीशम के विशाल पेड़ ने अचानक सड़क पर गिर घण्टों सड़क जाम कर दी। जबकि पेड़ गिरते वक्त सड़क पर उस समय आवागमन ना होने से एक बड़ा हादसा होने से भी टल गया।

खटीमा मार्केट से गुजरने वाले राष्ट्रीय राजमार्ग में अचानक पेड़ गिरने की वजह से लगभग साढ़े तीन धंटे सड़क जाम रही। सड़क के दोनों और वाहनों की लंबी लंबी लाइन लग गई। जबकि पेड़ के गिरने की वजह से एक पांच सौ केवी का ट्रांसफार्मर क्षतिग्रस्त हो गया साथ ही विधुत पोलो के क्षतिग्रस्त होने की वजह से खटीमा नगर के कई इलाकों की विधुत आपूर्ति पूरी तरह ठप हो गई।

वही पेड़ गिरने की सूचना मिलने पर स्थानीय पुलिस,वन विभाग व विधुत विभाग के कर्मचारियों ने मौके पर पहुँच पेड़ को कड़ी मसक्कत के बाद जंहा मोके से हटा राष्ट्रीय राज मार्ग को सुचारू किया। वही विधुत विभाग के कर्मचारियों ने अपनी क्षत्रिग्रस्त लाइनों को युद्ध स्तर पर सही करना भी शुरू कर दिया है।इस पेड़ के गिरने की वजह से बड़े स्तर पर जंहा विधुत लाइने क्षतिग्रस्त हुई है। वही बिजली विभाग के अधिकारियो के अनुसार सोमवार तक ही बाधित हुई बिजली सुचारू हो पाएगी। गौरतलब है कि खटीमा क्षेत्र के आसपास की सड़को व राष्ट्रीय राजमार्ग पर पुराने व जर्जर पेड़ जंहा अभी भी खड़े हुए है। वही पूर्व में इन पेड़ों के गिरने से दो लोग अपनी जान गंवा चुके है। इसके बावजूद भी वन विभाग या स्थानीय प्रशासन अभी भी इन पेड़ो को कटवाने की सुध नही ले रहा है। हालांकि बरसात की वजह से गिरे इस विशालकाय पेड़  की वजह से कोई भी हताहत ना हुआ हो लेकिन यमराज बन कर खड़े ऐसे दर्जनों पेड़ कभी भी एक बड़ी जन हानि कर सकते है। जिस पर प्रशासन को समय रहते सचेत होने की आवश्यकता है।

Comments are closed.