The Top Ten News
The Best News Portal of India

फर्जी दस्तावेज के सहारे सेना भर्ती में आये यूपी के सात युवकों सहित सरगना गिरफ्तार

सेना के खुफिया विभाग को बड़ी सफलता,सभी आरोपी पुलिस की गिरफ्त में


दी टॉप टैन न्यूज़(बनबसा)- बनबसा में 21 सितंबर से चल रही कुमाऊं के 6 जिलों की भर्ती में चौथे दिन एक बडा फर्जीवाड़ा सामने आया है। बनबसा आर्मी इंटेलिजेंस की टीम ने भर्ती स्थल से यूपी के विभिन्न जिलों से आये सात युवाओ को उत्तराखण्ड के भर्ती दस्तावेज के सहारे भर्ती होने के प्रयास में दबोचा है।युवाओ के पास से फर्जी दस्तावेज भी बरामद हुए है।जिनके माध्यम से ये युवक बनबसा आर्मी भर्ती रैली में शामिल होने आए थे। लेकिन आर्मी इंटेलिजेंस बनबसा यूनिट की सजगता के चलते यूपी के सात फर्जी अभ्यर्थियों को दबोचा गया है।
बनबसा भर्ती स्थल से पकड़े गए सभी आरोपी युवक यूपी के शाहजंहापुर,बुलन्दशहर,गाज़ियाबाद सहित विभिन्न जिलों के निवासी है। जिन्हें सेना में फर्जी दस्तावेज के सहारे भर्ती कराने वाली गैंग ने पैसे लेकर भर्ती कराने का आश्वाशन देकर बनबसा लाया गया था।बनबसा सेना भर्ती में यूपी से आये सातों आरोपी युवकों को बनबसा पुलिस ने अपनी कस्टडी में ले लिया है।वही फर्जी तरीके से भर्ती कराने वाले  गैंग लीडर के रूप में यूपी के महेंद्र नामक व्यक्ति का नाम सामने आया है।जिसे आर्मी इंटेलिजेंस व स्थानीय अभिसूचना की सूचना पर बनबसा के एक होटल से पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया गया है।
पुलिस की गिरफ्त में आये पकड़े गए आरोपी युवकों के अनुसार यूपी के महेंद्र नामक व्यक्ति ने डेढ़ से पांच लाख रुपये में बनबसा भर्ती कराने का आश्वासन दिया था। साथ ही उन्हें उत्तराखण्ड के बागेश्वर सहित विभिन्न जिलों के फर्जी निवास व जाती प्रमाण पत्र बना कर दिए गए थे।वही स्थानीय बनबसा पुलिस ने जंहा फर्जी तरीके से भर्ती होने आए सातों आरोपी युवकों को अपनी हिरासत में ले लिया है।वही फर्जी दस्तावेज के सहारे बनबसा सेना भर्ती में यूपी के लड़कों को भर्ती कराने लाये गैंग लीडर महेंद्र को भी बनबसा होटल से पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया गया है।
वही सूत्रों के अनुसार सेना भर्ती में जंहा यूपी से उत्तराखण्ड के फर्जी दस्तावेज के सहारे 30 से 35 युवक बनबसा पहुँचे थे। वही आर्मी इंटेलिजेंस की मुस्तेदी की वजह से ये लोग फर्जी दस्तावेज के सहारे भर्ती होने में कामयाब नही हो पाए।वही अब बनबसा पुलिस व इंटेलिजेंस इस मामले में जंहा पकड़े गए सरगना व युवकों से पूछताछ कर रही है ।कि आखिर कैसे उन्होंने उत्तराखण्ड के फर्जी दस्तावेज का निर्माण किया। व अभी तक कितने लोगों को फर्जी दस्तावेज के सहारे सेना में भर्ती करा दिया गया है।फिलहाल पुलिस इस मामले में पकड़े गए आरोपी युवकों व सरगना के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की तैयारी कर रही है।

Comments are closed.