The Top Ten News
The Best News Portal of India

पर्यटन नगरी नैनीताल फिर से होने लगी गुलज़ार

दी टॉप टेन न्यूज़ नैनीताल

उत्तराखण्ड राज्य सरकार द्वारा जारी अनलॉक 5 के दिशा-निर्देशों के बाद उत्तराखण्ड का पर्यटन फिर से पटरी पर लौट आया है। झीलों की नगरी नैनीताल पर्यटकों की आमद से फिर से खिल रहा है। प्रदेश के साथ ही अन्य राज्यों से भी पर्यटक बड़ी संख्या में नैनीताल घूमने के लिए आ रहे हैं। पर्यटकों और हितधारकों को इस परिदृश्य के साथ जोड़ा गया है कि उत्तराखण्ड यात्रा करने के लिए बिल्कुल सुरक्षित है यहां सभी आवश्यक सुरक्षा उपायों की व्यवस्था की गयी है। जिसे देखकर वीकेंड में पर्यटकों की संख्या में और वृद्धि होना तय है। 

अनलाॅक 5 में जारी दिशा निर्देशों के साथ उत्तराखंड में अधिकारियों द्वारा उठाए गए निर्णयों से पूरे देश से नैनीताल में पर्यटक आने लगे हैं। नैनीताल में नौका विहार की बहाली ने पर्यटन उद्योग को पटरी पर ला दिया है। नैनीताल के माल रोड, नैनी झील जैसे प्रसिद्ध हॉटस्पॉटों में पर्यटकों की चहल-कदमी देखने को मिल रही है।

नैनीताल घूमने आये दक्षिणी दिल्ली के पर्यटक, संतोष ने पर्यटकों की सुरक्षा के बारे में अपने विचार साझा किए और कहा, हम दूसरी बार नैनीताल आये हैं। मैं विश्वास के साथ कह सकता हूं कि नैनीताल में सभी सुरक्षित हैं। मेरे परिवार ने पैराग्लाइडिंग का आनंद लिया और हमने देखा कि सब कुछ ठीक से हो रहा है। स्थानीय जनता मास्क और उचित दूरी का ध्यान रख रही है। स्थानीय दुकान मालिक कोविड-19 से संबंधित दिशा निर्देशों के साथ सावधानी बरत रहे हैं।

दिल्ली से नैनीताल आयी पर्यटक दीया ने कहा, ‘‘मैं पहली बार अपने परिवार के साथ नैनीताल घूमने के लिए आई हूं। यहां सब कुछ पूरी तरह से सुरक्षित है और लोग सभी सामाजिक दूरियों के मानदंड़ों का पालन कर रहे हैं। 

बोट एसोसिएशन नैनीताल के कोषाध्यक्ष पूरन बोरा ने कहा, ‘‘हमें पिछले कुछ दिनों से अच्छी भीड़ देखने को मिल रही है। नियमित रूप से लगभग 60 प्रतिशत नौकाएँ बुक हो रही हैं। अनलाॅक के बाद नौकाओं के लिए अच्छी शुरुआत है। लोगों को रोजगार भी उपलब्ध हो रहा है, हम उम्मीद कर रहे हैं कि आने वाले त्योहारों की छुट्टियों में अधिक से अधिक पर्यटक यहां नौकायान करने के लिए आऐंगे।’’
नैनीताल होटल एंड रेस्तरां एसोसिएशन के उपाध्यक्ष दिग्विजय सिंह बिष्ट ने बताया, ‘‘अगर हम कोविड -19 के बीच सिल्वर लाइनिंग देखते हैं, तो मैं कह सकता हूं कि हमारे पास भीमताल, नौकुचिया ताल, कौसानी, पंगोट, सातताल, मुक्तेश्वर जैसी अलग-अलग जगहों पर एनसीआर के पर्यटकों की भीड़ देखी जा रही है। इन दिनों घर से काम की ओर अधिक झुकाव है, यही वजह है कि इन जगहों पर होटल और कॉटेज पर्यटकों से गुलजार हो रहे हैं। राज्य सरकार द्वारा जारी दिशा-निर्देशों के साथ नैनीताल के सभी हितधारक नियमित रूप से उचित दूरी, मास्क, साबुन व सेनेटाईजर का उपयोग कर रहे हैं।
 
पैराग्लाइडिंग एसोसिएशन नैनीताल के सचिव नितिन राणा ने बताया, ‘‘प्राकृतिक सौंदर्य का आनंद लेने के लिए पर्यटक अपने परिवार के साथ नैनीताल आ रहे हैं। साहसिक गतिविधियों में रूचि रखने वाले पर्यटकों के लिए हमारे पास पैराग्लाइडिंग के 12 रमणीक स्थान हैं जहां हम एक दिन में 80-100 पर्यटकों को लेकर उड़ान भरते हैं। वीकेंड पर यह आंकड़ा 120-150 तक चला जाता है। जो लाॅकडाउन के बाद एक अच्छी शुरुआत है।’’

इस संबंध में पर्यटन सचिव, दिलीप जावलकर ने कहा, ‘‘अनलाॅक 5 के बाद राज्य के पर्यटन स्थलों में पर्यटकों की बढ़ोतरी देखी जा रही है जो पर्यटन की दृष्टि से अच्छा संकेत है कि पर्यटन गतिविधियां बहुत लंबे समय के बाद सामान्य हो रही हैं। पर्यटन के साथ ही पर्यटकों की सुरक्षा हमारे लिए प्राथमिकता है।

Comments are closed.