The Top Ten News
The Best News Portal of India

अजय भट्ट को फेम इंडिया एशिया पत्रिका के सर्वे में मिला विलक्षण सांसद केटेगरी में सर्वश्रेष्ठ सांसद का खिताब

previous arrow
next arrow
Slider

दी टॉप टेन न्यूज़ देहरादून

फेम इंडिया मैगजीन ने सर्वे एजेंसी एशिया पोस्ट के साथ मिलकर एक सर्वे तथा ग्राउंड रिपोर्ट के जरिए देश के 542 सांसदों में से 25 विभिन्न श्रेणियों के लिए देश के सांसदों के चयन की प्रक्रिया अपनाई थी।
जिसमें सीधे जनता से ऑनलाइन तथा विशिष्ट व्यक्तियों से पूछे गए सवालों तथा लोकसभा की वेबसाइट पर उपलब्ध प्रमुख डाटा जिसमें सांसद का संसदीय क्षेत्र से संसद तक जन सेवा, समाज सेवा, जन जागरण से लेकर लोकतांत्रिक मूल्यों को मजबूत करने का कार्य तथा सांसदों की जनता से जुड़ने की प्रक्रिया, उनकी छवि पहचान,कार्यशैली, सदन में उपस्थिति, बहस में हिस्सा, प्राइवेट बिल, सदन में प्रश्न,सांसद निधि का सही उपयोग व सामाजिक सहभागिता को मुख्य मापदंड बनाया गया था।
आपको बताते चलें कि सांसद अजय भट्ट को वर्ष 2020 में भी फेम इंडिया एशिया पोस्ट के संयुक्त सर्वे में भी 25 सर्वश्रेष्ठ सांसदों में चुना गया था सांसद भट्ट लगातार दूसरी बार फेम इंडिया एशिया पोस्ट मैगजीन के सर्वे में अपना स्थान बनाए हुए हैं।
सांसद भट्ट पिछले सत्रों के दौरान लोकसभा में 03 प्राइवेट मेंबर बिल भी पेश कर चुके हैं।
सांसद भट्ट प्रमुख रूप से समान नागरिक संहिता, जनसंख्या नियंत्रण तथा उत्तराखंडी भाषा जिसमें गढ़वाली तथा कुमाऊनी को संविधान की आठवीं अनुसूची में शामिल किए जाने के बिलों को सदन के पटल पर रख कर राष्ट्र का ध्यान आकृष्ट करने में सफल रहे हैं।
सांसद अजय भट्ट पूर्व में प्रदेश अध्यक्ष तथा नेता प्रतिपक्ष के सफल कार्यकाल का निर्वहन करने के पश्चात इस समय संसद में उत्तराखंड की मूलभूत समस्याओं को पटल पर रखने का मजबूती से कार्य कर रहे हैं।

Comments are closed.